Teacher’s Day शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता हैं?

Teacher's Day शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता हैं?

आज का दिन है बहुत खास क्युकी आज है 5 सितंबर और आज के दिन का इंतज़ार छात्र और अध्यापकों को बेसब्री से रहता है। आज छात्र अपने अध्यापकों को अपने हिसाब से उपहार देते है। शिक्षक दिवस (Teachers day) भारत में हर साल 5 सितंबर को शिक्षक दिवस (Teachers day) के रूप में मनाया जाता हैं। शिक्षक दिवस भारत के प्रथम उपराष्ट्रपति डाँ. एस राधाकृष्णन के जन्म दिवस के रूप में मनाया जाता हैं। यह बच्चों से बहुत प्रेम करते थे एक बार बच्चों ने इनके जन्म दिन पर उपहार देना चाहा। इन्होंने प्रेम भाव से कहा यह दिन सभी अध्यापको के लिए खास होना चाहिए। तभी से इनके जन्म दिवस को शिक्षक दिवस (Teachers day) के रूप में मनाया जाता है।

‌क्या वजह है की टीचर डे क्यों 5 सितम्बर को मनाया जाता है?

आज के तारीख 5 सितंबर 1888 को तमिलनाडु के तिरुमनी गाँव के एक साधारण परिवार मे सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का जन्म हुआ। सर्वपल्ली राधाकृष्णन पड़ने मे बहुत प्रतिभावान थे। और बाद में इनको महान शिक्षक की उपाधि प्राप्त हुआ। आज ही डाँ. एस राधाकृष्णन के जन्म के अवसर पर पूरे भारत में शिक्षक दिवस मनाया जाने लगा।

Teacher's Day शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता हैं?
Teacher’s Day शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता हैं?

‌पहली बार शिक्षक दिवस कब मनाया गया ?

भारत में शिक्षक दिवस को पहली बार 5 सितंबर 1962 को मनाया गया था। राधाकृष्णन को भारतीय संस्कृति के संवाहक, शिक्षाविद् व महान दार्शनिक के रूप में पहचाना जाता हैं। सर्वपल्ली राधाकृष्णन को 27 बार नोबल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। वर्ष 1954 मे उन्हें “भारत रत्न” पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया। जीवन भर शिक्षा के क्षेत्र में योगदान देने वाले डाँ. एस. राधाकृष्णन का मृत्यु 17 अप्रैल 1975 को चेन्नई मे हुआ था।

‌टीचर का स्टूडेंट के लाइफ में इम्पोर्टेंस

एक शिक्षक वह होता है जो अपने ज्ञान, कला व कौशल से छात्रों को नयी उचाइयों तक पहुँचाता हैं। जो एक बेहतर इंसान बनाने मे हमारी मदद करते हैं। राष्ट्र का भाग्य भी इन्ही से तय होता है क्योकि युवा छात्रो का भविष्य उनके हाथों में होता है। ” शिक्षक का हमारे जीवन में विशेष महत्व होता है एक शिक्षक ही अच्छे राष्ट्र का निर्माण करते हैं वो ही हमें कलम का महत्व सिखाते है इसलिए इन्हें समाज में गुरु का दर्जा दिया गया है।

‌शिक्षक दिवस का उद्देश्य और महत्व

  •  शिक्षा के माध्यम से बच्चो को शिक्षा और शिक्षक का महत्व बताना।
  • नयी पीढी के बच्चो को समाज और सभ्यताओं का अनुसरण करना।
  • शिक्षक द्वारा बताये गये बातों का ध्यान देना व अनुसाशित रहना।
  • शिक्षक दिवस पूरे भारत के कालेज, कोचिंग सेंटर्स, स्कूल आदि संस्थानों में एस. राधाकृष्णन को श्रधांजलि देकर शिक्षक दिवस मनाया जाता है।
  • शिक्षक दिवस के शुभ मौके पर छात्र शिक्षकों को तरह-तरह के कार्ड, गिफ्ट व उपहार देकर सम्मानित करते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top