आदित्य L1: आदित्य l1 इसरो द्वारा लॉन्च किया गया है?

आदित्य l1 इसरो द्वारा लॉन्च किया गया है?

आदित्य l1 इसरो द्वारा लॉन्च किया गया है?

आदित्य L1 को श्रीहरि कोटा सतीश धवन स्पेस स्टेशन से 2 सितम्बर सुबह 10:50 पर इसरो द्वारा सफलतापूर्वक लांच कर दिया गया है। जो चंद्रयान 3 के बाद अगला मिशन है। भारत लगातार स्पेस की दौड़ में आगे बढ़ाता जा रहा है। जिसको पूरी दुनिया देख रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इस सफल लॉन्च को बधाई भी दी।ADITYA L1 धरती से लगभग 15 लाख किलोमीटर दूर जायेगा। इस आदित्य L1 को लॉन्च करने का मेन मकसद सूर्य का अध्यन करना है। और पृथ्वी के वायुमंडल का भी अध्ययन करना भी है। सूर्य की प्राकृत को अच्छे से जानने की कोशिश करेगा।

आदित्य एल1 सूर्य पर कब उतरेगा?

बहुत से लोगो को लग रहा है की आदित्य L1 सूर्य पर उतरेगा। आपके मन में भी अगर ऐसा सवाल चल रहा है तो आपको बता दिया जाये की आदित्य L1 सूर्य उतरेगा नहीं बल्कि उसके पास भी नहीं जायेगा। क्युकी सूर्य का तापमान बहुत अधिक है। इस तापमान को कोई भी टेक्नोलॉजी नहीं सह पायेगी। आदित्य L1 पृथ्वी और सूर्य के सिर्फ 1% दुरी पर ही जाएगी। यानि लगभग 15 लाख किलोमीटर। और वही से आदित्य L1 सूर्य का अध्यन करेगा।

आदित्य l1 इसरो द्वारा लॉन्च किया गया है?
आदित्य l1 इसरो द्वारा लॉन्च किया गया है?

आदित्य l1 को सूर्य तक पहुंचने में कितने दिन लगेंगे?

सूर्य और पृथ्वी के बिच दुरी बहुत ज्यादा है। अब सोचने वाली ये बात है की आखिर आदित्य L1 सूर्य तक पहुंचने में कितना दिन लगेगा। आदित्य L1 को अपने लक्ष्य तक पहुंचने में 125 दिन का वक्त लगेगा। तब तक इसरो इसपे अपना पूरा नज़र बनाये रखेगी। और अपने मिशन में सफल हो के रहेगी। L1 का मतलब है लैंगरेजियन 1। जो एक बिंदु है और इस बिंदु पर ही इस आदित्य L1 को स्टे किया जायेगा।

आदित्य l1 पहला सौर मिशन है?

आदित्य L1 पहली भारत की सौरमंडल मिशन है। जिसमे साथ 7 पेलोड लगे हुए है। जिसमे से 4 पेलोड सूर्य के किरणों का अध्यन करेगा और बाकि तीन सूर्य के प्लाज़्मा और सूर्य के प्रकृति का अध्ययन करेगा। इसी मिशन के वजह से ही पता चलेगा की सूर्य हमारे लिए कितना ज्यादा से ज्यादा उपयोग में आ सकता है। या फिर सूर्य से निकलने वाली हानिकारक किरणों से कैसे बचा जा सकता है। इस आदित्य L1 मिशन का बहुत महत्तव है। हमारे भारत देश के और इससे निकलने वाली जानकारी से मानवता को बाहर फायदा होने वाली है।

आदित्य L1 बजट

भारत अपने काम बजट के लिए पुरे विश्व में जाना जाता है। चंद्रयान 3 को 615 करोड़ में लांच करने के बाद आदित्य L1 को 400 करोड़ के बजट में इसरो ने लांच कर दिया है। अपने आप में ही सोचने वाली बात है की इसरो इतने सस्ते में मिशन को सफलतापूर्वक करता कैसे है। आदित्य L1 को PSLV-XL राकेट द्वारा लांच किया गया है। बहुत ही शक्तिशाली राकेट है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top